bhoominews .in

मधुबनी || खुटौना: कोरोना वायरस की वजह से सरकार ने पूरे देश को फिर से लॉकडाउन कर दिया है। ऐसे में बिना काम घर से निकलने पर रोक है। इस लॉकडाउन के बजह से ग्रामीण क्षेत्रों में रोज कमाकर खाने वाले मजदूरों को सबसे ज्यादा दिक्कत का सामना करना पर रहा हैं। उन मजदूरों के पास खाने तक का अन्न नहीं बचा हैं। ऐसे में कई गैर सरकारी संस्था और समाज सेवी आगे आकर ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर रही हैं ताकि गरीब लाचार भूखे न सोये। उन्हीं समाज सेवी में से एक हैं मोo अज़ीम मंसूरी जो लगातार गरीब गुरबों को मदद कर रहा हैं। मंगलवार को खुटौना प्रखण्ड के कई गाँव में गरीब मजदूरो एवं विधवा महिलाओं के बीच नगद राशि का वितरण किया।


मैं अपने कमिंटी के साथ मिलकर मधुबनी के लगभग सभी प्रखण्डों में 24 घण्टे लोगों को सेवा पहुंचाने में लगे रहते हैं और लॉकडाउन के बजह से बिहार के बाहर फंसे लोगों तक राशन एवं सभी तरह के जरूरत के सामग्री भेजवाते रहते हैं - मो० अज़ीम मंसूरी, जमीअतुल मंसूर कमेटी जिला प्रभारी

मोo मंसूरी ने बताया कि आज फिर से जमीअतुल मंसूर मधुबनी बिहार के तरफ से खुटौना प्रखण्ड के कई गाँव में गरीब मजदूरो एवं विधवा महिलाओ को नगद राशि के रूप में 300 से 500 रूपये दिया गया, मेरे दोस्त और कमेटी के सदस्य भाई अंजार अंजुम मंसूरी का अहम योगदान रहा, इन्होंने मेरे आग्रह पर लगभग 30 गरीब मजदूरों को तीन तीन सौ रुपए अपने अगल बगल के पंचायतो में दिए।

Post a Comment

أحدث أقدم