Bipeen-kumar-singhwait


मधुबनी: कोरोना वायरस से संक्रमित मामले हर दिन बढ़ते जा रहे हैं। चीन से फैले इस वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। विश्व में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1,65,073 हो गई है, जबकि 24,07,414 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। वहीं भारत में इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया था जिसे बढ़ाकर 3 मई तक कर दिया गया। ऐसे में देश की ज्यादातर जनता अपने घरों में है। जारी लॉकडाउन के बीच गरीब गुरबों, रोज कमा कर खाने वाले एवं बिहार से बाहर काम करने वाले दिहाड़ी मजदूरों के बीच रोजी - रोटी का संकट आ गया। गरीब गुरबों एवं मजदूरों की समस्या को देख, मधुबनी के राजद नेता सह झंझारपुर लोकसभा पूर्व प्रत्याशी बिपिन कुमार सिंघवैत ने वीडियो के जरिये केंद्र एवं राज्य के NDA सरकार पर निशाना साधा हैं।


यह वक्त समुचित राजनितिक करने का नहीं हैं, वर्तमान सरकार के तरफ से गरीब गुरबों को मदद करने के नाम पर भाषण का लॉलीपॉप दिया जा रहा हैं - बिपिन कुमार सिंघवैत, मधुबनी राजद नेता सह झंझारपुर लोकसभा पूर्व प्रत्याशी


वैसे लॉकडाउन में श्री सिंघवैत वीडियो एवं सोशल मिडिया के जरिये गरीब गुरबों को मदद के लिए सरकार पे निशाना साधते रहते हैं। ऐसे आपको बता दें कि कल श्री सिंघवैत ने एक विडिओ जारी करते हुए दूसरे प्रदेश में फंसे मजदूरो एवं विद्यार्थी को लाने के लिए सरकार के तरफ से कोई प्रयास नहीं देख, बिहार के NDA सरकार पर निशाना साधा हैं।

दरअसल, रविवार के दोपहर वीडियो संदेश जारी करते हुए राजद नेता बिपिन कुमार सिंघवैत ने बिहार वासियों से कहा कि कोरोना वायरस जैसे महामारी से जंग जितने के लिए घरों में ही रहे और लॉकडाउन का पूर्ण पालन करें। साथ ही बिपिन कुमार सिंघवैत ने यह कहा कि यह वक्त राजनितिक करने का नहीं हैं वर्तमान सरकार चलाने वाले लोग घृणित राजनितिक कर रही हैं गरीब गुरबों को मदद के नाम पर भाषण का लॉलीपॉप उन लोगों के तरफ से दिया जा रहा हैं गरीब गुरबों को सरकार के माध्यम से मदद नहीं पहुँच पा रही हैं ये मैं नहीं कह रहा उन तमाम मजदूर गरीब भाइयों का कहना हैं। बिहार से बाहर अन्य प्रदेशों में फंसे मजदूर दर-दर के ठोकर खाने पर मजबूर हैं। पॉवर में बैठे हुक्मरानों से बताना चाहता हूँ साहेब गरीब गुरबों को आपके भाषण से कहीं ज्यादा भोजन और राशन की आवश्यकता हैं।

श्री सिंघवैत ने कहा हमेंशा से अमीरों की गलतिओं का सजा गरीबों को भुगतना पड़ा हैं। कोरोना देश में  हवाई जहाज से अमीर लेके आया और इस कोरोना बजह से गरीब दर-दर का ठोकर खा रहा हैं। मनुवादी और सामंतवादी से प्रेरित सरकार देश में दो-दो हिन्दुस्तान बना देना चाहती हैं अमीरी और गरीबी का। नितीश सरकार से सीधा सवाल हैं जब गुजरात और UP सरकार इस लॉकडाउन में अन्य प्रदेशों में फंसे लोगों और छात्रों को लाने के लिए बसों का व्यवस्था कर सकती हैं तो आप क्यों नहीं।

मधुबनी के राजद नेता सह झंझारपुर लोकसभा पूर्व प्रत्याशी बिपिन कुमार सिंघवैत ने अपने विडिओ सन्देश के अंत में नितीश कुमार जी आपकी डबल इंजन की सरकार हैं निचे भी और ऊपर भी आप नरेन्द्र मोदी जी पर दबाब बनान कर दूसरे राज्य में फंसे 7 लाख मजदूरो और 6500 छात्रों को बिहार लाने का काम कीजिए आप कर सकते हैं।

नितीश कुमार और सुशील मोदी जी पर निशाना साधते हुए बोले नितीश जी तो कुर्सी कुमार हैं ही और सुशील मोदी को लालू और लालटेन के सिवा कुछ दिखाई ही नहीं देता हैं वह विज्ञापन कुमार बन कर रह गया हैं।


जारी विडिओ संदेश को देखें


Post a Comment

أحدث أقدم